CSC NDUW eShram Card Registration Process

CSC NDUW Project: NDUW यानी national database of unorganized workers के माध्यम से सरकार पूरे देश में असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोग जैसे – छोटे और सीमांत किसान, मछुआरों, पशुपालन में लगे लोग, बीड़ी रोलिंग, लेबलिंग और पैकिंग, भवन और निर्माण श्रमिक, बढ़ई,  ईंट भट्ठों और पत्थर की खदानों में काम करने वाले मजदूर, नाइयों, सब्जी और फल विक्रेता, समाचार पत्र विक्रेता, रिक्शा खींचने वाले, ऑटो चालक, घर की नौकरानी, सड़क विक्रेताओं, मनरेगा कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता, दूध डालने वाले किसान, प्रवासी मजदूरों और ऐसे तमाम लोग जो किसी बड़ी कम्पनी में काम करने की जगह अपना काम धंधा कर रहे है!

उनका एक नैशनल डेटबेस बनाने के उद्देश्य से NDUW योजना के माध्यम से प्रत्येक असंगठित क्षेत्र के श्रमिक को eshram Card जारी किया जा रहा है! ताकि सरकार के पास पूरे देश में तरह तरह के काम कर रहे लोगों की जानकारी हो और उनकी पहचान कर उनको तमाम तरह की सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जा सके!

Requirement Of NDUW Eshram Card (national Database of unorganised Workers

हमारे देश में लगभग 43.7 करोड़ लोग तमाम तरह के छोटे मोटे असंगठित व्यापार अथवा असंगठित क्षेत्र के उद्यम से जुड़े है ! किंतु सरकार के पास ऐसा कोई डेटबेस अथवा इनकी जानकारी ना होने के कारण कायी बार इन लोगों तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुँचाना बहुत मुसकिल हो जाता है! जैसे की अभी कोरोना संकट के समय सरकार ने सभी मज़दूरों के खाते में 1000 की आर्थिक मदद व मुफ़्त राशन का लाभ देने का घोषणा की! और इसका लाभ बहुत से असंगठित  क्षेत्र से जुड़े या अपना छोटा मोटा रोज़गार करने वाले लोगों को नहीं मिल सका! जिसके पीछे सबसे बड़ा कारण यह था की सरकार के पास इस बारे में कोई पुख़्ता अकड़ा व जानकारी नहीं थी! की कितने लोग किस रोज़गार के माध्यम से असंगठित क्षेत्र से सम्बंध रखते है!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *